बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • 13 मार्च के बाद होगी लोकसभा चुनाव तारीखों की घोषणा, पहली बार  96.88 करोड़ लोग होंगे मतदाता, बिहार पर खास नजर
  • 13 मार्च के बाद होगी लोकसभा चुनाव तारीखों की घोषणा, पहली बार 96.88 करोड़ लोग होंगे मतदाता,

  • डेब्यू मैच में ही छा गए बिहार के सासाराम के रहनेवाले आकाशदीप, तेज गेंदों का सामना नहीं कर पाए इंग्लैंड के बल्लेबाज, तीन खिलाड़ियों को किया आउट
  • डेब्यू मैच में ही छा गए बिहार के सासाराम के रहनेवाले आकाशदीप, तेज गेंदों का सामना नहीं कर

  • लोकसभा चुनाव में एनडीए बिहार में बनाएगी जीत का रिकॉर्ड, संतोष सुमन ने तेजस्वी को दी बड़ी चुनौती
  • लोकसभा चुनाव में एनडीए बिहार में बनाएगी जीत का रिकॉर्ड, संतोष सुमन ने तेजस्वी को दी बड़ी चुनौती

  • नर्सिंग की छात्रा की हुई रहस्यमय तरीके से मौत, शिकायत करने पहुंची लड़कियों को पुलिस ने दी धमकी, आक्रोशित विद्यार्थियों ने काटा बवाल
  • नर्सिंग की छात्रा की हुई रहस्यमय तरीके से मौत, शिकायत करने पहुंची लड़कियों को पुलिस ने दी धमकी,

  • पटना में होटल के कमरे में शव मिलने से मचा हड़कंप , फांसी के फंदे पर लटका  मिला युवक
  • पटना में होटल के कमरे में शव मिलने से मचा हड़कंप , फांसी के फंदे पर लटका

  • सौर ऊर्जा से जगमग होंगे सभी थाना एवं पुलिस भवन, सीएम नीतीश ने किया राज्य पुलिस एवं कारा व्यवस्था के सुदृढ़ीकरण हेतु उद्घाटन एवं शिलान्यास
  • सौर ऊर्जा से जगमग होंगे सभी थाना एवं पुलिस भवन, सीएम नीतीश ने किया राज्य पुलिस एवं कारा

  • सब के ससुराले वाला पार्टी बा...लालू यादव के खाली ना... परिवारवाद के सवाल पर भड़की राबड़ी देवी, पीएम मोदी से लेकर आनंद मोहन तक को खूब सुनाया
  • सब के ससुराले वाला पार्टी बा...लालू यादव के खाली ना... परिवारवाद के सवाल पर भड़की राबड़ी देवी, पीएम

  • स्कूल टाइमिंग पर नहीं मानना है केके पाठक का आदेश, एमएलसी नीरज का ऐलान- सिर्फ सीएम नीतीश की बात मानें शिक्षक
  • स्कूल टाइमिंग पर नहीं मानना है केके पाठक का आदेश, एमएलसी नीरज का ऐलान- सिर्फ सीएम नीतीश की

  • हाजीपुर कोर्ट जा रहे दो बाइक सवार सड़क दुर्घटना के हुए शिकार, एक की मौके पर हुई मौत, दूसरा गंभीर रुप से जख्मी
  • हाजीपुर कोर्ट जा रहे दो बाइक सवार सड़क दुर्घटना के हुए शिकार, एक की मौके पर हुई मौत,

  • राजद विधायक सुधाकर की चुनौती,  बक्सर में दिखेगा प्रधानमंत्री के खिलाफ जनाक्रोश, सीएम नीतीश को भी दिया चैलेंज
  • राजद विधायक सुधाकर की चुनौती, बक्सर में दिखेगा प्रधानमंत्री के खिलाफ जनाक्रोश, सीएम नीतीश को भी दिया

राजद कार्यालय का घेराव करने पहुंचे हजारों ग्रामीण चिकित्सक, तेजस्वी को बुलाने की जिद पर अड़े, सीएम नीतीश पर उतारा अपना गुस्सा

राजद कार्यालय का घेराव करने पहुंचे हजारों ग्रामीण चिकित्सक, तेजस्वी को बुलाने की जिद पर अड़े, सीएम नीतीश पर उतारा अपना गुस्सा

PATNA : पिछले सात साल से स्वास्थ्य मित्र में नियुक्ति का इंतजार कर रहे स्वास्थ्य मित्रों का सब्र आखिरकार खत्म हो गया और शुक्रवार को हजारों की संख्या में ग्रामीण चिकित्सक राजद कार्यालय का घेराव करने के लिए पहुंच गए। नीतीश सरकार के खिलाफ वादाखिलाफी का आरोप लगा रहे ग्रामीण चिकित्सकों की मांग थी कि जब तक बिहार के स्वास्थ्य मंत्री खुद आकर हमें लिखित रुप से जल्द नियुक्ति का भरोसा नहीं देते हैं, तब तक यह घेराव जारी रहेगा। राजद कार्यालय पहुंचनेवालों ग्रामीण चिकित्सकों में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल थीं।

नीतीश कुमार से नाराजगी

राजद कार्यालय के पास जुटे ग्रामीण चिकित्सकों ने बताया कि 2014 में नीतीश कुमार ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में यह बात कही थी कि सभी ग्रामीण चिकित्सकों को स्वास्थ्य मित्र बनाया जाएगा। उन्होंने कहा था ग्रामीण चिकित्सकों के कारण ही गांवों में होनेवाली कई बीमारियों का इलाज संभव हो पाता है। जिसके बाद 2016 में परीक्षा ली गई, जिसमें 21 हजार के करीब स्वास्थ्य मित्र बनाने के लिए  को एनआईओएस से एक वर्षीय प्रशिक्षण भी राज्य के विभिन्न जिले के सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर दिलाया गया। यह सभी ग्रामीण चिकित्सक लिखित एवं प्रायोगिक परीक्षा में भी पास हो गए हैं। लेकिन, स्वास्थ्य मित्र के रूप में नियुक्ति नहीं कराई गई

ग्रामीण चिकित्सकों का कहना है कि ही विगत वर्ष कोरोना जैसे महामारी,टीबी,मलेरिया,फाइलेरिया रोग में ग्रामीण चिकित्सक जान की बाजी लगाकर लोगों के जीवन की रक्षा की। आज भी राज्य की बड़ी आबादी ग्रामीण चिकित्सा पर ही निर्भर है। इसके बाद भी हमारे साथ सरकार न्याय नहीं कर रही है।

विरोध कर रहे चिकित्सकों का कहना है कि बिहार में एक तरफ सरकार एक लाख शिक्षकों की नियुक्ति कर रही है। वहीं दूसरी तरफ हम ग्रामीण चिकित्सकों को ट्रेनिंग देने के बाद भी अब तक नियुक्ति नहीं दी जा रही है। ग्रामीण चिकित्सकों ने कहा कि एक माह से हम लोग गर्दनीबाग में धरने पर अपने बच्चों को घर पर छोड़कर बैठे हैं. लेकिन सरकार का कोई नुमाइंदा हमलोगों से मिलने तक नहीं पहुंचा। हमलोगों ने जब तेजस्वी यादव से मिलने की बात कही तो बार बार उन्हें शहर से बाहर होने की बात कही जाती रही। ऐसे में राजद कार्यालय के घेराव के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं था। अगर हमारी मांगे नहीं मानी जाती है तो जदयू कार्यालय का भी घेराव किया जाएगा।

चुनाव में दिखेगा नतीजा

बेहद आक्रोशित नजर आ रहे ग्रामीण चिकित्सकों ने सीधे सीधे बिहार सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द हमलोंगों की नियुक्ति नहीं की गई तो आनेवाले चुनाव में इसका नतीजा सरकार को भुगतना होगा। हमलोग सरकार को गिराने का काम करेंगे।