बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • तेजस्वी की जनविश्वास यात्रा में दिखा चोरों का तांडव, पुलिस की सुरक्षा घेरा के बीच राजद कार्यकर्ताओं के बाइक ले उड़े बदमाश
  • तेजस्वी की जनविश्वास यात्रा में दिखा चोरों का तांडव, पुलिस की सुरक्षा घेरा के बीच राजद कार्यकर्ताओं के

  • बिहार की जनता पीएम मोदी को दिखाएगी ठेंगा, जनविश्वास यात्रा के दौरान तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री के बिहार दौरे पर साधा निशाना, कहा- फिर आ रहे हैं जुमलेबाजी करने
  • बिहार की जनता पीएम मोदी को दिखाएगी ठेंगा, जनविश्वास यात्रा के दौरान तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री के बिहार

  • तेजस्वी यादव ने बदला बिहार का व्याकरण, जनविश्वास यात्रा को लेकर राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा- राज्य में बदलाव के मिल रहे संकेत
  • तेजस्वी यादव ने बदला बिहार का व्याकरण, जनविश्वास यात्रा को लेकर राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा- राज्य

  • बिहार में सदन से सड़क तक सियासत गरमाई, निखिल मंडल के पोस्टर को आधी रात को अज्ञात युवक ने फाड़ा, गुस्साए जदयू महासचिव ने तेजस्वी को बता दी ये हकीकत
  • बिहार में सदन से सड़क तक सियासत गरमाई, निखिल मंडल के पोस्टर को आधी रात को अज्ञात युवक

  • कटिहार पुलिस ने डकैती की योजना बना रहे पांच चोरों का रंगे हाथ दबोचा, हथियार के साथ सोना-चांदी के आभूषण बरामद
  • कटिहार पुलिस ने डकैती की योजना बना रहे पांच चोरों का रंगे हाथ दबोचा, हथियार के साथ सोना-चांदी

  • रफ्तार का कहर: नालंदा में अनियंत्रित ऑटो पलटने से आधा दर्जन से अधिक लोग हुए जख्मी, कई की हालत गंभीर
  • रफ्तार का कहर: नालंदा में अनियंत्रित ऑटो पलटने से आधा दर्जन से अधिक लोग हुए जख्मी, कई की

  • की-बोर्ड-माउस से कभी मास्टर साहेब का पाला पड़ा नहीं , के.के. पाठक का डर ऐसा की पहुंच गए ऑनलाइन एग्जाम देने, नियोजित शिक्षक दिल के दर्द को ऐसे कर रहे बयां
  • की-बोर्ड-माउस से कभी मास्टर साहेब का पाला पड़ा नहीं , के.के. पाठक का डर ऐसा की पहुंच गए

  • नौ जिलों में सक्षमता परीक्षा आज से शुरू, दो पालियों में होगा आयोजन, विलंब से आने पर नियोजित शिक्षकों को  नहीं मिलेगा प्रवेश
  • नौ जिलों में सक्षमता परीक्षा आज से शुरू, दो पालियों में होगा आयोजन, विलंब से आने पर नियोजित

  • BIG BREAKING : कैमूर में भीषण सड़क हादसा, तेज रफ्तार स्कॉर्पियो और कंटेनर के बीच हुई जोरदार टक्कर, 9 लोगों की हुई मौत
  • BIG BREAKING : कैमूर में भीषण सड़क हादसा, तेज रफ्तार स्कॉर्पियो और कंटेनर के बीच हुई जोरदार टक्कर,

  • गोपालगंज में युवक का शव पुलिस ने झाड़ियों से किया बरामद, इलाके में मचा हड़कंप
  • गोपालगंज में युवक का शव पुलिस ने झाड़ियों से किया बरामद, इलाके में मचा हड़कंप

विश्व धरोहर में शामिल हुआ रबिन्द्र नाथ टैगोर का शांति निकेतन, यहीं गुरूजी ने बिताए थे अपने जीवन के अधिकांश साल, पीएम ने कहा - यह देश के लिए गर्व का क्षण

विश्व धरोहर में शामिल हुआ रबिन्द्र नाथ टैगोर का शांति निकेतन, यहीं गुरूजी ने बिताए थे अपने जीवन के अधिकांश साल, पीएम ने कहा - यह देश के लिए गर्व का क्षण

DESK : देश के सांस्कृतिक विरासतों में शामिल कोलकत्ता स्थित रबीन्द्रनाथ टैगोर के घर शांति निकेतन को यूनेस्को ने विश्व धरोहर सूची (UNESCO World Heritage Sites) में शामिल किया है। कई कविताओं के रचयिता, नोबेल पुरस्कार विजेता, भारत का राष्ट्रगान लिखने वाले रबीन्द्रनाथ टैगोर का घर शांतिनिकेतन पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शांति निकेतन को विश्व धरोहर में शामिल किए जाने पर अपनी खुशी जाहिर की है।

शांति निकेतन को लंबे समय से यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल कराने की कोशिश की जा रही थी। यूनेस्को की इस सूची में नया नाम भारत का शांतिनिकेतन जुड़ गया है। इस बाबत पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, 'यूनेस्को ने पश्चिम बंगाल को पर्यटन के लिए चयनित किया है। रबीन्द्रनाथ टैगोर के निवास स्थान शांतिनिकेतन को यूनेस्कों की विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया है

यूनेस्को ने दी बधाई

शांति निकेतन को विश्व धरोहर में शामिल करने का ऐलान यूनेस्को ने किया है। एक्स पर इसके लिए भारत को बधाई देते हुए यूनेस्को ने इसकी जानकारी साझा की। वहीं शांतिनिकेतन को यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल किए जाने के बाद पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में स्थित विश्वभारती विश्वविद्यालय में जश्न मनाया गया। 

शांति निकेतन में गुजरा गुरूजी का अधिकांश जीवन

 बता दें कि रबीन्द्रनाथ टैगोर को गुरुदेव के नाम से भी संबोधित किया जाता है। उन्होंने अपने जीवन का अधिकांश समय शांतिनिकेतन में बिताया था।  इस बाबत बोलते हुए विश्व भारती विश्वविद्यालय के कुलपति विद्युत चक्रवर्ती ने कहा कि यह हम सभी के लिए उत्सव का दिन है। हमें इस क्षण का हिस्सा बनने का सौभाग्य मिला है, क्योंकि हम इस विश्वविद्यालय से जुड़े हुए हैं। हमें यह याद रखने की जरूरत है कि जिस व्यक्ति ने हमें इस क्षण तक पहुंचाया वह कोई और नहीं बल्कि विश्व भारती के संस्थापक गुरुदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर हैं।

यह क्षण और इसके लिए मनाया जा रहा उत्सव रबीन्द्रनाथ टैगोर की उपलब्धियों का परिणाम है। यूनेस्को द्वारा दिया गया विश्व धरोहर का टैग इस विश्वविद्यालय के लिए ऐतिहासिक है। क्योंकि यह सीखने का एकमात्र स्थान है, जहां अब भी मान्यता प्राप्त शिक्षा दी जा रही है।

प्रधानमंत्री ने बताया गर्व का क्षण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को पश्चिम बंगाल के शांतिनिकेतन को UNESCO की विश्व धरोहर स्थलों की सूची में शामिल करने को “सभी भारतीयों के लिए गर्व का क्षण” बताया।‘एक्स’ पर पीएम मोदी ने पोस्ट किया, “खुशी है कि गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर के दृष्टिकोण और भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक शांतिनिकेतन को UNESCO विश्व विरासत सूची में अंकित किया गया है. यह सभी भारतीयों के लिए गर्व का क्षण है।

वहीं विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी रवींद्रनाथ टैगोर के निवास स्थान ‘शांतिनिकेतन’ को UNESCO द्वारा विश्व धरोहर का दर्जा दिए जाने पर खुशी व्यक्त की।