बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • 13 मार्च के बाद होगी लोकसभा चुनाव तारीखों की घोषणा, पहली बार  96.88 करोड़ लोग होंगे मतदाता, बिहार पर खास नजर
  • 13 मार्च के बाद होगी लोकसभा चुनाव तारीखों की घोषणा, पहली बार 96.88 करोड़ लोग होंगे मतदाता,

  • डेब्यू मैच में ही छा गए बिहार के सासाराम के रहनेवाले आकाशदीप, तेज गेंदों का सामना नहीं कर पाए इंग्लैंड के बल्लेबाज, तीन खिलाड़ियों को किया आउट
  • डेब्यू मैच में ही छा गए बिहार के सासाराम के रहनेवाले आकाशदीप, तेज गेंदों का सामना नहीं कर

  • लोकसभा चुनाव में एनडीए बिहार में बनाएगी जीत का रिकॉर्ड, संतोष सुमन ने तेजस्वी को दी बड़ी चुनौती
  • लोकसभा चुनाव में एनडीए बिहार में बनाएगी जीत का रिकॉर्ड, संतोष सुमन ने तेजस्वी को दी बड़ी चुनौती

  • नर्सिंग की छात्रा की हुई रहस्यमय तरीके से मौत, शिकायत करने पहुंची लड़कियों को पुलिस ने दी धमकी, आक्रोशित विद्यार्थियों ने काटा बवाल
  • नर्सिंग की छात्रा की हुई रहस्यमय तरीके से मौत, शिकायत करने पहुंची लड़कियों को पुलिस ने दी धमकी,

  • पटना में होटल के कमरे में शव मिलने से मचा हड़कंप , फांसी के फंदे पर लटका  मिला युवक
  • पटना में होटल के कमरे में शव मिलने से मचा हड़कंप , फांसी के फंदे पर लटका

  • सौर ऊर्जा से जगमग होंगे सभी थाना एवं पुलिस भवन, सीएम नीतीश ने किया राज्य पुलिस एवं कारा व्यवस्था के सुदृढ़ीकरण हेतु उद्घाटन एवं शिलान्यास
  • सौर ऊर्जा से जगमग होंगे सभी थाना एवं पुलिस भवन, सीएम नीतीश ने किया राज्य पुलिस एवं कारा

  • सब के ससुराले वाला पार्टी बा...लालू यादव के खाली ना... परिवारवाद के सवाल पर भड़की राबड़ी देवी, पीएम मोदी से लेकर आनंद मोहन तक को खूब सुनाया
  • सब के ससुराले वाला पार्टी बा...लालू यादव के खाली ना... परिवारवाद के सवाल पर भड़की राबड़ी देवी, पीएम

  • स्कूल टाइमिंग पर नहीं मानना है केके पाठक का आदेश, एमएलसी नीरज का ऐलान- सिर्फ सीएम नीतीश की बात मानें शिक्षक
  • स्कूल टाइमिंग पर नहीं मानना है केके पाठक का आदेश, एमएलसी नीरज का ऐलान- सिर्फ सीएम नीतीश की

  • हाजीपुर कोर्ट जा रहे दो बाइक सवार सड़क दुर्घटना के हुए शिकार, एक की मौके पर हुई मौत, दूसरा गंभीर रुप से जख्मी
  • हाजीपुर कोर्ट जा रहे दो बाइक सवार सड़क दुर्घटना के हुए शिकार, एक की मौके पर हुई मौत,

  • राजद विधायक सुधाकर की चुनौती,  बक्सर में दिखेगा प्रधानमंत्री के खिलाफ जनाक्रोश, सीएम नीतीश को भी दिया चैलेंज
  • राजद विधायक सुधाकर की चुनौती, बक्सर में दिखेगा प्रधानमंत्री के खिलाफ जनाक्रोश, सीएम नीतीश को भी दिया

फिल्म 'विवाह' के तर्ज पर दुल्हन ने अस्पताल में दुल्हे से रचाई शादी, जानिए क्या है पूरा मामला

फिल्म 'विवाह' के तर्ज पर दुल्हन ने अस्पताल में दुल्हे से रचाई शादी, जानिए क्या है पूरा मामला

DESK: बॉलीवुड का मशहूर फिल्म 'विवाह' किसको नहीं याद होगा। विवाह मूवी एक सच्ची घटना पर अधारित थी। जहां शादी के पहले दुल्हन अगलगी की घटना में घायल हो गई थी। जिसके बाद दुल्हे ने दुल्हन से अस्पताल में ही शादी रचाई थी। दुल्हे ने तय तिथि पर अस्पताल में  दुल्हन के साथ शादी की। इस घटना को आज भी सराहा जाता है। वहीं एक ऐसे ही मामला एक बार फिर सामने आया है। जहां एक दुल्हन ने अपने दुल्हे के साथ अस्पताल में शादी रचाई है। बताया जा रहा कि दुल्हे को डेंगू हो गई थी। जिसके कारण दुल्हा अस्पताल में था। वहीं दुल्हन ने अस्पताल में ही शादी करने का निर्णय लिया। फिर क्या था देखते ही देखते अस्पताल के हॉल को मंडप सा सजाया गया और दुल्हा, दुल्हन की शादी रचाई गई। 

दरअसल, यह मामला यूपी के गाजियाबाद का है। जहां दुल्हे के घर से बारात निकलने की सारी तैयारियां हो गई थी और बारात सब निकलने ही वाली थी कि दुल्हे की तबीयत बिगड़ गई। आनन- फानन में परिजनों ने दुल्हे को अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने जांच  में ब्लड प्लेटलेट्स काउंट बहुत कम पाया। दूल्हे के स्वास्थ्य को देखते हुए डॉक्टरों ने भर्ती होने की सलाह दी।

वहीं इसके बाद परिजनों ने दुल्हे की शादी अस्पताल में ही कराने का निर्णय लिया। अस्पातल के एक हॉल में मंडप सजाया गया। अस्पताल के मंडप में दूल्हा दुल्हन ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई। दूल्हा-दुल्हन ने माता-पिता के पांव छूकर आशीर्वाद लिए। वहीं दोनों की इस अनोखी शादी की चर्चा हर तरफ हो रही है। जानकारी अनुसार शादी से ठीक चार दिन पहले दुल्हे अविनाश कुमार की तबीयत खराब हो गई। बुखार और थकान के कारण अविनाश अगले दो दिनों तक बिस्तर से उठ नहीं सके। डेंगू की पुष्टि होने के बाद 25 नवंबर को मैक्स वैशाली अस्पताल में परिजनों ने भर्ती कराया। अविनाश का ब्लड प्लेटलेट्स काउंट गिरकर 10 हजार पहुंच गया था। 

वहीं डॉक्टरों ने अविनाश की गंभीर हालत को देखते हुए उसे भर्ती होने की सलाह दी। जिसके बाद अविनाश को देखने के लिए उनकी मंगेतर अनुराधा अपने माता-पिता के साथ पहुंची। जहां दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से बच्चों की शादी अस्पताल में ही कराने का निर्णय लिया। अस्पताल के एक ह़ॉल को मंडप की तरह सजाया गया। जहां शेरवानी और लहंगा में सजे अविनाश और अनुराधा ने एक दुसरे से शादी की।