बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • बिहार की जनता पीएम मोदी को दिखाएगी ठेंगा, जनविश्वास यात्रा के दौरान तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री के बिहार दौरे पर साधा निशाना, कहा- फिर आ रहे हैं जुमलेबाजी करने
  • बिहार की जनता पीएम मोदी को दिखाएगी ठेंगा, जनविश्वास यात्रा के दौरान तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री के बिहार

  • तेजस्वी यादव ने बदला बिहार का व्याकरण, जनविश्वास यात्रा को लेकर राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा- राज्य में बदलाव के मिल रहे संकेत
  • तेजस्वी यादव ने बदला बिहार का व्याकरण, जनविश्वास यात्रा को लेकर राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा- राज्य

  • बिहार में सदन से सड़क तक सियासत गरमाई, निखिल मंडल के पोस्टर को आधी रात को अज्ञात युवक ने फाड़ा, गुस्साए जदयू महासचिव ने तेजस्वी को बता दी ये हकीकत
  • बिहार में सदन से सड़क तक सियासत गरमाई, निखिल मंडल के पोस्टर को आधी रात को अज्ञात युवक

  • कटिहार पुलिस ने डकैती की योजना बना रहे पांच चोरों का रंगे हाथ दबोचा, हथियार के साथ सोना-चांदी के आभूषण बरामद
  • कटिहार पुलिस ने डकैती की योजना बना रहे पांच चोरों का रंगे हाथ दबोचा, हथियार के साथ सोना-चांदी

  • रफ्तार का कहर: नालंदा में अनियंत्रित ऑटो पलटने से आधा दर्जन से अधिक लोग हुए जख्मी, कई की हालत गंभीर
  • रफ्तार का कहर: नालंदा में अनियंत्रित ऑटो पलटने से आधा दर्जन से अधिक लोग हुए जख्मी, कई की

  • की-बोर्ड-माउस से कभी मास्टर साहेब का पाला पड़ा नहीं , के.के. पाठक का डर ऐसा की पहुंच गए ऑनलाइन एग्जाम देने, नियोजित शिक्षक दिल के दर्द को ऐसे कर रहे बयां
  • की-बोर्ड-माउस से कभी मास्टर साहेब का पाला पड़ा नहीं , के.के. पाठक का डर ऐसा की पहुंच गए

  • नौ जिलों में सक्षमता परीक्षा आज से शुरू, दो पालियों में होगा आयोजन, विलंब से आने पर नियोजित शिक्षकों को  नहीं मिलेगा प्रवेश
  • नौ जिलों में सक्षमता परीक्षा आज से शुरू, दो पालियों में होगा आयोजन, विलंब से आने पर नियोजित

  • BIG BREAKING : कैमूर में भीषण सड़क हादसा, तेज रफ्तार स्कॉर्पियो और कंटेनर के बीच हुई जोरदार टक्कर, 9 लोगों की हुई मौत
  • BIG BREAKING : कैमूर में भीषण सड़क हादसा, तेज रफ्तार स्कॉर्पियो और कंटेनर के बीच हुई जोरदार टक्कर,

  • गोपालगंज में युवक का शव पुलिस ने झाड़ियों से किया बरामद, इलाके में मचा हड़कंप
  • गोपालगंज में युवक का शव पुलिस ने झाड़ियों से किया बरामद, इलाके में मचा हड़कंप

  • राजकीय मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पूर्णिया का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, सांसद संतोष कुशवाहा बोले-जल्द करेंगे एम्स के निर्माण की मांग
  • राजकीय मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पूर्णिया का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, सांसद संतोष कुशवाहा बोले-जल्द करेंगे एम्स

NCERT की किताबों में अब 'इंडिया' की जगह 'भारत' का प्रयोग, इतिहास को भी तीन की जगह चार भागों में बांटने का फैसला

NCERT की किताबों में अब 'इंडिया' की जगह 'भारत' का प्रयोग, इतिहास को भी तीन की जगह चार भागों में बांटने का फैसला

NEW DELHI : NCERT राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) की तर्ज पर अपने पाठ्यक्रम में संशोधन कर रहा है। अब राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान संस्थान और प्रशिक्षण परिषद यानी NCERT की किताबों में अब INDIA नाम की जगह भारत लिखा जाएगा। इसे तय करने के लिए 19 सदस्यीय नेशनल सिलेबस एंड टीचिंग लर्निंग मटेरियल कमेटी (NSTC) गठित की गई थी।  अब पैनल ने बदलाव के प्रस्ताव को एनसीईआरटी ने मंजूरी दे दी है। पैनल के सदस्यों में से एक सीआई इसाक ने कहा, यह प्रस्ताव कुछ महीने पहले ही रखा गया था और अब इसे स्वीकार कर लिया गया है।

प्लासी के युद्ध के समय से शुरू हुआ था इंडिया का प्रयोग

बुधवार को समिति के अध्यक्ष सीआई आइजैक ने कहा, 'इंडिया शब्द का आमतौर पर इस्तेमाल ईस्ट इंडिया कंपनी और 1757 के प्लासी के युद्ध के बाद होना शुरू हुआ था। जबकि, भारत का जिक्र विष्णु पुराण जैसे प्राचीन लेखों में मिलता है, जो 7 हजार साल पुराने हैं। ऐसे में समिति ने आम सहमति से सिफारिश की है कि सभी कक्षाओं की किताबों में भारत के नाम का इस्तेमाल होना चाहिए।'

अब क्लासिकल हिस्ट्री की भी होगी पढ़ाई

उन्होंने बताया, 'अंग्रेजों ने भारतीय इतिहास को प्राचीन, मध्यकालीन और आधुनिक में बांटा है। अब एंशिएंट का मतलब प्राचीन होता है। वो दिखाता है कि देश अंधेरे में था, जैसे कि उसमें कोई वैज्ञानिक जागरूकता थी ही नहीं। सौर मंडल पर आर्यभट्ट के काम समेत ऐसे कई उदाहरण भी हैं। हमने सुझाव दिया है कि मध्यकाल और आधुनिक के साथ-साथ क्लासिकल हिस्ट्री को पढ़ाया जाना चाहिए।

पराजित भारत नहीं, विजयी योद्धाओं के बारे में जानेंगे छात्र

समिति ने किताबों में 'हिंदू योद्धाओं की जीत' के बारे में भी पढ़ाने की सिफारिश की है। उन्होंने कहा, 'फिलहाल, किताबों में हमारी असफलताएं शामिल की गई हैं। लेकिन मुगलों और सुल्तानों पर हमारी जीत के बारे में नहीं बताया गया। उदाहरण के लिए किताबों में बताया गया है कि मोहम्मद गौरी ने भारत पर आक्रमण किया था।'

उन्होंने कहा, 'जबकि, यह बहुत कम बताया गया है कि उसके भारत से जाने के पहले ही कोकारी जनजाति ने उसे मार दिया था।' साथ ही समिति ने इंडियन नॉलेज सिस्टम (IKS) को भी शामिल करने की सिफारिश की है।